महात्मा गांधी पर निबंध पढ़ें – Essay on Mahatma Gandhi in Hindi

Mahatma Gandhi Essay in Hindi for Students and Kids 400 words

भारत की पवित्र भूमि पर अनेक महापुरुषों ने जन्म लिया जिनमें से महात्मा गांधी जी का नाम भी एक है गांधी जी के जीवन का प्रमुख उदेश्य मानवता की सेवा करना था इसके लिए गांधी जी ने सत्य और हिंसा पर ज़ोर दिया और बापू गांधी ने देश को सदियों की गुलामी की जंजीर से मुक्त कराया इसीलिए गांधी जी इस युग के सबसे महान पुरुष थे जिन्होंने सोये हुए भारतवर्ष को जगाया और देश में आत्म सम्मान की लहर दौड़ाई।

महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के बचपन का नाम मोहनदास गांधी था। इनका जन्म 2 अक्टूबर 1869 को पोरबंदर (गुजरात) में हुआ था। आपके पिता जी का नाम करमचन्द गांधी था जो राजकोट राज्य के दीवान थे और माता का नाम पुतलीबाई था। 13 वर्ष की उम्र में गांधी जी की शादी कस्तूबरा से हुई थी। 17 वर्ष की उम्र में आपने मेट्रिक पास की और फिर वकालत की पढाई के लिए इंग्लैंड चले गए वहां से आकर आपने वकालत करनी शुरू कर दी।

एक बार आप एक केस के सिलसिले में अफ्रीका गए वहां पहुंचते ही आप ने देखा के वहां की सरकार भारतीय लोगों पर अत्याचार कर रही है भारतीय लोगों को वहां भेद भाव की नजर से देखा जाता था भारतीयों के साथ बुरे व्यव्हार को देखते हुए गांधी जी ने वहां सत्याग्रह आंदोलन करना शुरू कर दिया वहां पर गांधी जी को अनेक प्रकार के कष्ट सहने पड़े परन्तु गांधी जी ने हार नहीं मानी अंत उन्हें सफ़लता भी मिली।

भारत लौटने के बाद आप कांग्रेस में शामिल हो गए यहाँ आप ने असहयोग आन्दोलन चलाया। गांधी जी हमेशा सत्य बोलते थे वह अहिंसा के पुजारी थे वह दिनभर चरखा कातते थे व खादी पहनते थे। आपके महान कार्यों की वजय से लोग आपको बापू गांधी के नाम से भी पुकारते थे।

गांधी जी का उपदेश था के हमेशा सत्य बोलो , सभी से प्यार करो , स्वदेशी पहनो , सबको एक सामान समझो , सभी धर्मों का आदर करो और किसी को अछूत मत समझो ऐसा करना पाप है।

गांधी जी ने देश के महान वीर सपूतों के साथ मिलकर देश को अंग्रेजों से आज़ाद करवाया जिसके लिए आपको राष्ट्रपिता भी कहा जाता है। 30 जनवरी 1948 को नाथूराम गोडसे नाम के आदमी ने अचानक आप पर गोली चला दी जिस कारण आप स्वर्ग सुधार गए। दिल्ली में राजघाट नाम से आपकी समाधि बनी हुई है।

Leave a Comment