Essay on Jawaharlal Nehru in Hindi Language 300 Words

Essay on Jawaharlal Nehru in Hindi : पंडित जवाहरलाल नेहरू पर निबंध

जवाहरलाल नेहरु स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री थे। उनका जन्म 14 नवम्बर 1889 ई: को इलाहाबाद के आनंद भवन में हुआ था। आपके पिता पंडित मोतीलाल नेहरू एक प्रसिद्ध वकील थे और माता जी का नाम स्वरूपुरानी था। नेहरू जी का जन्म एक अमीर परिवार में हुआ था इसीलिए आपके पालन -पोषण में कोई कमी नहीं रही। उनकी शुरूयाती शिक्षा मौलवी और पंडितों की देख -रेख में घर पर ही हुई।

इसके बाद जवाहरलाल नेहरु उच्च शिक्षा के लिए इंग्लैंड चले गए। लंदन के कैंब्रिज विश्वविद्द्लाय से आपने उच्च शिक्षा हासिल की और सन 1912 में आप बैरिस्टर बनकर स्वदेश लौटे।

सन 1916 में जवाहरलाल नेहरु जी की शादी कमलादेवी के साथ हुई। कमलादेवी भी एक देशभगत महिला थी। लंदन से लौटने के बाद नेहरू जी ने राजनीती में कदम रखा सन 1920 में गांधी जी द्वारा असहयोग आंदोलन शुरू किया नेहरू जी भी इस आंदोलन में शामिल हो गए। इस आंदोलन के चलते आपको गिरफ़्तार कर लिया गया।

सन 1929 में आपको कांग्रेस का अध्यक्ष चुना गया आप ने रावी नदी के तट पर पूर्ण स्वराज्य प्राप्त करने की प्रतिज्ञा ली। तभी से वे भारतीय जनता के ह्रदय के सम्राट बन गए। नेहरू जी ने अपने जीवन के बहुत सारे वर्ष जेल में रहकर ही व्यतीत किये।

आज़ादी आंदोलन के बीच उनकी पत्नी कमला नेहरू बीमार पड़ गयी और कमला जी को बचाया नहीं जा स्का वह स्वर्ग सुधार गयीं। नेहरू जी अपनी एक मात्र संतान इंदिरा गांधी को लंदन के एक स्कूल में दाखिला दिलाकर भारत वापिस लौट आये और वे फिर से देश सेवा के कार्य में जुट गए।

15 अगस्त 1947 को भारत आज़ाद हुआ इसके उपरंत जवाहरलाल नेहरु को भारत का प्रधानमंत्री चुना गया। आप लगातार 17 वर्षों तक भारत के प्रधानमंत्री रहे और आपने देश के विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण कार्य किए। जिसके लिए आपको सन 1955 में भारत रत्न सम्मान से सम्मानित किया गया ।

27 मई 1964 को दिल का दौरा पड़ने से उनका देहांत हो गया।